वीडियो: निजी स्कूल की मनमानी के खिलाफ सड़क पर उतरे अभिभावक ..

अभिभावकों का कहना था कि सरकारी शिक्षा व्यवस्था की बदहाली के कारण निजी स्कूलों की माफियागिरी का नमूना देखने को मिल रहा है. जब कोरोना काल की अवधि का केवल शिक्षण शुल्क लेना है तो भवन शुल्क तथा कंप्यूटर शुल्क लेना कहा तक उचित है? 

 




- नगर के सिंडीकेट के समीप कर दिया सड़क जाम
- विद्यालय प्रबंधन के आश्वासन के बाद माने अभिभावक


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: नगर के एक प्रतिष्ठित निजी स्कूल के द्वारा कोरोना काल में स्कूल के बंद रहने के बावजूद शिक्षण शुल्क के अतिरिक्त अन्य शुल्क लिए जाने के विरोध में विद्यालय के अभिभावकों ने सड़क जाम कर हंगामा शुरू कर दिया. उनका कहना था कि विद्यालय के द्वारा शिक्षण शुल्क के अतिरिक्त अन्य शुल्क भी लिए जा रहा है जो गलत है.  जाम लगने की सूचना पर नगर थानाध्यक्ष रंजीत कुमार एवं नप सिटी मैनेजर असगर अली तथा यातायात प्रभारी अंगद सिंह मौके पर पहुंच गए थे तथा विधि-व्यवस्था को सुचारु करने बनाने का प्रयास शुरू कर दिया.सड़क जाम की सूचना पर पहुंचे पुलिस कर्मियों के द्वारा मौके पर पहुंचकर जाम को खत्म कराने की कोशिश शुरु की गई. इसी बीच अभिभावकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने विद्यालय प्रबंधन से बात की तथा आश्वासन मिलने के बाद जाम खत्म किया गया.




अभिभावकों का कहना था कि सरकारी शिक्षा व्यवस्था की बदहाली के कारण निजी स्कूलों की माफियागिरी का नमूना देखने को मिल रहा है. जब कोरोना काल की अवधि का केवल शिक्षण शुल्क लेना है तो भवन शुल्क तथा कंप्यूटर शुल्क लेना कहा तक उचित है? हालांकि, यह भी केवल कुछेक स्कूल प्रबंधन द्वारा किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस निजी विद्यालय में पढ़ने गए बच्चों को फीस के पैसे वसूली के नाम पर प्रताड़ित किया जा रहा है. शिकायत ले कर पहुँचे  परिजनों के साथ सुरक्षा में तैनात गार्ड ने जमकर बदसलूकी और महिलाओं तक से मारपीट कर खदेड़ दिया वहीं,प्रबंधन के लोग सबकुछ सीसीटीवी में बैठ कर देखते रहे.

विद्यालय प्रबंधन से बात करने पर उनके द्वारा यह बताया गया कि कुछ अभिभावक यह कह रहे हैं कि ट्यूशन फीस का भी 50 फीसद माफ कर दिया जाए. इसी बात को लेकर विरोध है. अन्य किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जा रहा है. सड़क जाम के कारण उत्तरप्रदेश के बलिया , गाजीपुर जिले समेत आरा - पटना की लाइफ लाइन सड़क पर आम जनों को भारी कठिनाई का सामना करना पड़ा.

वीडियो:










Post a Comment

0 Comments