दो नए बाइपास निर्माण के लिए भेजा गया डीपीआर, अतिक्रमण पर चलेगा बुलडोज़र ..

बताया जा रहा है कि इसका डीपीआर बनाकर विभाग को भेजा जा चुका है जिसकी स्वीकृति के बाद जेंडर आदि की प्रक्रिया पूरी करने के उपरांत  बाइपास निर्माण शुरू कर दिया जाएगा. इस सड़क का अतिक्रमण करने वाले लोगों को चिन्हित किया गया है. उनके निर्माण को जल्द ही ध्वस्त भी किया जाएगा.

 







- चौसा रोड से इटाढ़ी रोड तथा स्टेशन रोड से चौसा बक्सर मुख्य मार्ग तक बनेगा बाइपास
- जल्द ही शुरू होगा दोनों सड़कों से अतिक्रमण हटाने का अभियान

बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: नगर के विकास को लेकर रूपरेखा बनाए जाने के क्रम में जिला प्रशासन की ओर से भेजे गए प्रस्ताव को सरकारी कैबिनेट ने पिछले दिनों मंजूरी दे दी है.  इसके तहत मठिया से लेकर इटाढ़ी रोड व आईटीआई मैदान से होकर जानेवाली जेल पइन रोड को बाइपास रोड बनाए जाने की मंजूरी मिल चुकी है. बताया जा रहा है कि इसका डीपीआर बनाकर विभाग को भेजा जा चुका है जिसकी स्वीकृति के बाद जेंडर आदि की प्रक्रिया पूरी करने के उपरांत  बाइपास निर्माण शुरू कर दिया जाएगा. इस सड़क का अतिक्रमण करने वाले लोगों को चिन्हित किया गया है. उनके निर्माण को जल्द ही ध्वस्त भी किया जाएगा.

इस तरह से होगा बाइपास निर्माण

बाइपास का निर्माण चौसा रोड के मठिया मोड़ से कटकर इटाढ़ी रोड की ओर जाएगा. संभवतः यह बड़का नुआंव के प्रवेश द्वार के सामने से होते हुए रेलवे क्रॉसिंग पर कर असकामिनी माता मंदिर के पास से होते हुए इटाढ़ी रोड में निकलेगा. इसके बन जाने से चौसा से इटाढ़ी की ओर जानेवालों को नगर में आने की कोई जरूरत ही नहीं पड़ेगी. वे सीधे चौसा से मठिया के पास से ही इटाढ़ी रोड में चले जाएंगे. उनको जाम का सामना नहीं करना पड़ेगा. 


इसी तरह से जेल पइन रोड में भी बाइपास बनेगा. आई.टी.आई. मैदान के पास से चौसा रोड से कटकर स्टेशन रोड में डी.ए.वी. स्कूल के सामने निकलेगा. इससे समाहरणालय या रेलवे स्टेशन से चौसा की ओर जानेवालों को एक नया मार्ग मिल जाएगा. वाहनों को डीएम आवास या फिर मॉडल थाना चौक होकर जाने से निजात मिल जाएगी.

भेजा गया डीपीआर, जल्द चलेगा अतिक्रमण हटाने का काम:

प्रशासनिक सूत्रों की माने तो सड़क निर्माण के लिए डीपीआर तैयार कर प्रशासनिक स्वीकृति हेतु विभाग को भेजा जा चुका है. स्वीकृति के पश्चात अन्य अड़चनों को दूर कर निर्माण शुरू किया जाएगा. मठिया से इटाढ़ी रोड में जानेवाला मार्ग तथा जेल पइन रोड के निर्माण में अतिक्रमण सबसे बड़ी बाधा है. इस पइन पर पूर्व से जो सड़क बनी है, वह जैसे- तैसे बना दी गयी है. कई जगहों पर मकान भी बनाए गए हैं. ऐसे में बिना अतिक्रमण हटाए इस सड़क का निर्माण करना मुश्किल है. बताया जा रहा है कि दोनों सड़कों पर जल्द ही अतिक्रमण हटाए जाने का अधिकारिक शुरू किया जाएगा.









Post a Comment

0 Comments