उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही सम्पन्न हुआ आस्था का महाअनुष्ठान ..

रामरेखा घाट जाने वाले मार्ग को बैरिकेड कर दिया गया था. केवल दूसरे रास्ते से पीपरपांती रोड से निकल कर लोग मॉडल थाना चौक तक आ सकते थे. रामरेखा घाट के अतिरिक्त अन्य गंगा घाटों पर भी पुलिस बल के द्वारा लगातार निगरानी की जा रही थी.







- भगवान भास्कर को अर्घ्य देने के लिए गंगा घाटों पर उमड़ा आस्था का जनसैलाब 
- सुरक्षा के किए गए थे व्यापक इंतजाम, व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग कर रहे थे अधिकारी

बक्सर टॉप न्यूज, बक्सर : चैती छठ के मौके पर नगर के रामरेखा घाट समेत विभिन्न गंगा घाटों पर छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर लोक कल्याण की कामना की. इसके साथ ही व्रतियों ने शुक्रवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य दिया जिसके बाद आस्था के महा अनुष्ठान का समापन हो गया. छठ पर्व के मौके पर बक्सर सांसद सह केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, सदर विधायक संजय कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी, समेत तमाम सामाजिक कार्यकर्ताओं ने जिले वासियों को हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की. गंगा जागरण मंच की तरफ से सौरभ कुमार तिवारी ने जिले वासियों को छठ पर्व की बधाई दी साथ ही छठ पर्व के दौरान कथित पावनी गंगा की स्वच्छता कायम रखने में मददगार बनने की अपील की.




छठ पर्व को लेकर रामरेखा घाट समेत विभिन्न गंगा घाटों पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे. रामरेखा घाट जाने वाले मार्ग को बैरिकेड कर दिया गया था. केवल दूसरे रास्ते से पीपरपांती रोड से निकल कर लोग मॉडल थाना चौक तक आ सकते थे. रामरेखा घाट के अतिरिक्त अन्य गंगा घाटों पर भी पुलिस बल के द्वारा लगातार निगरानी की जा रही थी.


नगर थानाध्यक्ष समेत तमाम पुलिसकर्मी लगातार सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे थे उधर, सुरक्षा व्यवस्था को लेकर. प्रशासनिक पदाधिकारियों के साथ-साथ रेडक्रॉस के सचिव डॉ श्रवण कुमार तिवारी ने भी स्टीमर पर सवार होकर गंगा घाट की स्थिति का अवलोकन किया. उधर रामरेखा घाट समेत विभिन्न गंगा घाटों पर सामाजिक संस्थानों के द्वारा सहायता कैम्प भी लगाए गए थे. कल्याणी हर्बल की तरफ से भी विभिन्न गंगा घाटों पर सहायता कैंप लगाया गया था वहीं, मेडिकल इमरजेंसी के लिए सिविल सर्जन डॉ जितेंद्र नाथ के निर्देशानुसार जहां अस्पताल में सभी स्वास्थ्य कर्मी अलर्ट मोड में थे वहीं, एंबुलेंस आदि की भी व्यवस्था है सुचारु रहे इसका भी इंतजाम किया गया था. छठ व्रत के दौरान जिले में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है.

















 














Post a Comment

0 Comments